जनता गर्ल्स पी.जी. कॉलेज ऐलनाबाद की अद्भुत गाथा

68 / 100
img 9440

जनता गर्ल्स पी.जी. कॉलेज ऐलनाबाद की कहानी बेहद रोचक और अत्यंत प्रेरणादायक है और आज मुझे अचानक ही मालूम चली हुआ यूं कि आज दफ्तर के काम से मुझे ऐलनाबाद आना पड़ा जो कि हरियाणा राज्य के सिरसा जिले का छोटा सा टाउन है।

यहाँ मेरे मित्र मार्गदर्शक श्रीमान शीशपाल हरदू जी रहते हैं। जिनके सानिध्य में आज सभी ऑफिशियल दायित्वों का निर्वहन हो रहा था। दरअसल आज किसान संचार और विंगीफाई फाउंडेशन नई दिल्ली की ओर से सिरसा जिले के दस स्कूलों में पोस्टर मेकिंग कम्पटीशन आयोजन किया गया था और श्रीमान शीशपाल हरदू जी रिटायर्ड प्रिंसिपल हैं उन्होंने अपने छोटे भाई श्री सुल्तान सिंह हरदू का सहयोग लेकर इस बड़े आयोजन को मूर्त रूप दिया था

आज सुबह चार बजे जब मैं चंडीगढ़ से चल कर ऐलनाबाद पहुंचा तो शीशपाल सर ने मुझे अपनी गाडी में बैठा लिया हमने तेजी से नियत रूट पर चल कर जिन जिन स्कूलों में प्रतियोगिताएँ चल रही थी वहां पहुँच कर बच्चों और स्टाफ का हौंसला बढाने लगे

जनता गर्ल्स पी.जी. कॉलेज ऐलनाबाद का जिक्र

दोपहर कोई पौने एक बजे जब हम जनता गर्ल्स पी.जी. कॉलेज ऐलनाबाद पहुंचे तो कॉलेज प्रांगण में प्रवेश करते ही मुझे बेहद पोसिटिव एनर्जी का एहसास हुआ। जैसे ही हमें कालेज में कार्यक्रम के आयोजक श्री राजीव झोरड जी , कृष्ण लाल कासनिया जी, श्री नरेश पारीक जी और सुधीर दगेलिया जी हमें बड़े हाल में लेकर पहुंचे तो वहां मौजूद 124 छात्राओं को पोस्टर बनाते हुए देख कर मैं तो हतप्रभ रह गया।

फिर स्टाफ रूम में वापिस आकर बैठे तो चाय की चुस्कियों के साथ जनता गर्ल्स पी.जी. कॉलेज ऐलनाबाद के जन्म की कहानी मुझे सुनने को मिली।

जनता गर्ल्स पी.जी. कॉलेज ऐलनाबाद की कहानी

ऐलनाबाद टाउन के आउटस्कर्ट्स में एक छोटा सा गाँव है किशनपुरा और सन 1995-96 के आसपास यहाँ के सरपंच होते थे श्री हरिराम भादू जी और एक दिन पंचायत ने आपस में बैठ कर विचार किया कि क्यों ना गाँव में उपलब्ध 9 एकड़ भूमि का उपयोग गाँव और आसपास के इलाके की कन्याओं की पढ़ाई हेतु उपयोग में लाया जाए।

समय बीतने के साथ साथ पंचायतों के लिए भूमि प्रबंधन के समस्या बन सकती है इसी लिए पंचायत ने सोच विचार करे ऐलनाबाद के जनता वेलफेयर ट्रस्ट के चेयरमैन श्री संसारभूषण सेतिया जी के समक्ष एक प्रस्ताव रखा कि यदि जनता वेलफेयर ट्रस्ट लड़कियों की शिक्षा दीक्षा के लिए कालेज बनाना चाहे तो किशनपुरा गाँव की पंचायत 9 एकड़ भूमि सहर्ष देने के लिए तैयार है।

श्री संसार भूषण सेतिया जी ऐलनाबाद की जानी मानी शख्सियत थे और इनका कॉटन जिनिंग एवं राइस मिल का कारोबार था और ये हरियाणा सरकार में मंत्री रहे श्री लक्ष्मण दास अरोड़ा जी के समधी भी थे।

जनता वेलफेयर ट्रस्ट ऐलनाबाद को यह किशनपुरा ग्राम पंचायत का यह प्रस्ताव पसंद आया और उन्होंने साल 1998 में मात्र कुछ कमरों के साथ जनता गर्ल्स पी जी कालेज की शुरुआत कर दी।

पब्लिक फंडिंग का अनूठा मॉडल

जब कालेज की शुरुआत हुई तो जनता वेलफेयर ट्रस्ट ऐलनाबाद की मैनेजमेंट जानती थी कि कालेज को चलाने के लिए जन सहयोग की अत्यंत आवश्यकता पड़ेगी तो बहुत सोचविचार करके ट्रस्ट की मैनेजमेंट ने एक सोशल इनोवेशन किया जो कालांतर में बेहद कामयाब भी रहा और आज तक जारी है।

जनता वेलफेयर ट्रस्ट ने पूरी ऐलनाबाद की मंडी और किराना मार्किट के व्यापारियों की एक संयुक्त बैठक बुलाई और ग्रामपंचायत किशनपुरा और जनता वेलफेयर ट्रस्ट के संयुक्त प्रयासों से बनाये जा रहे गर्ल्स कॉलेज के विचार के बारे में बताया और सोशल फंडिंग का कोई ऐसा मॉडल बनाये जाने की मांग रखी जिससे यह संस्थान तरक्की की राह पर चले।

उस बैठक में यह तय हुआ कि ऐलानाबाद टाउन के सभी व्यापारी जो अपनी इच्छा से इस कॉलेज के साथ जुड़ना चाहेंगे वे अपने लाभ के प्रति 100 रुपये में से 11 पैसे जनता वेलफेयर ट्रस्ट को देंगे और जनता वेलफेयर ट्रस्ट इसमें से 5 पैसे जनता गर्ल्स कॉलेज की व्यवस्था में और 6 पैसे गौशाला की सेवा में खर्च करेगा।

जनता द्वारा अपने ऊपर लगाये गये सवैच्छिक टैक्स का ऐसा उदहारण मैंने आज तक नहीं देखा है। कालेज में काम करने वाले कर्मचारी बताते हैं कि कॉलेज का इंफ्रास्ट्रक्चर जबरदस्त है। अच्छा भवन है खुला प्रांगण है लाइब्रेरी कंप्यूटर साइंस लैब कैंटीन आदि सब कुछ है। ऐलनाबाद शहर के सभी बड़े बिजनेसमैन दुकानदार आढतिया आदि कालेज से जुड़े हैं और ईमानदारी से अपना हिस्सा इस कालेज की प्रगति हेतु जनता वेलफेयर ट्रस्ट में जमा करते हैं।

img 9436

सर्वजातीय सदस्यता ही है असली ताकत

श्री संसार भूषण सेतिया जी के जनता वेलफेयर ट्रस्ट के चेयरमैन के कार्यकाल के बाद ट्रस्ट की जिम्मेदारी श्री हनुमान प्रसाद लड्ढा जी ने संभाली और कॉलेज ओ नई बुलंदियों पर पहुंचाया। मुझे शीशपाल हरदू जी ने बताया कि इस ट्रस्ट में बनिया , पंजाबी , जाट और कम्बोज आदि अन्य सभी जातियों का प्रतिनिधित्व है और वर्तमान में श्री हनुमान प्रसाद अग्रवाल जी ट्रस्ट के मुखिया हैं जिनका ऐलनाबाद मंडी में आढ़त का कारोबार है ।

सीखने वाली बातें

आज सोशल मीडिया में और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में जहाँ देखों तहां देश के लोगों को आपस में लडाने के सत्तर सौ प्रपंच किये जाते हैं। बस किसी तरह गाँव और शहर या फिर किसी और मसले पर लोगों को आपस में लड़ा दो। जनता वेलफेयर ट्रस्ट ऐलनाबाद और ग्राम पंचायत किशनपुरा और ऐलनाबाद टाउन की व्यापारिक समाज नें एकसाथ खड़े होकर पूरे भारत को रौशनी की एक नई किरण दिखा दी है कि देखो यदि नीयत साफ़ हो और मन में विश्वास हो तो उपलब्ध संसाधनों में ही बहुत बड़े बड़े काम किये जा सकते हैं।