शुभ लाभ आर्थिक संगठन के प्रथम बैच के प्रतिभागियों हेतु कुछ महत्वपूर्ण बातें

शुभ लाभ आर्थिक संगठन के प्रथम बैच की सभी 300 महिला सदस्यों को सादर नमस्कार

आज ZOOM प्लेटफोर्म पर दोपहर तीन बजे आयोजित की गयी ऑनलाइन मीटिंग में आपके कुछ सदस्यों के साथ बातचीत करने का अवसर मिला और बातचीत में मैंने महसूस किया की अभी संगठन के बारे में आपके मन में कुछ सवाल हैं और उनके जवाब मैं यहाँ लिख कर दे रहा हूँ

  1. सबसे पहली बात यह है कि यह निर्णय लिया गया है कि एक लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप फर्म को पंजीकृत कराए जाने का प्लान है जिसमें हरेक गाँव से एक DESIGNATED मेम्बर होगा जो अपने गाँव के मेम्बेर्स का प्रतिनिधित्व करेगा आम सदस्य और उसमें कोई फर्क नही होगा बस उसके उपर एक्स्ट्रा जिम्मेदारी होगी अपने गाँव के सदस्यों को इक्कठा रखने की और उन्हें साथ लेकर चलने की गाँव के सदस्य हर वर्ष अपने गाँव से एक सदस्य का नाम भेजंगे जिसे DESIGNATED मेम्बर कहा जायेगा
  2. इन DESIGNATED मेम्बेर्स की एक कमेटी बनेगी जो सबकी सलाह के साथ आगे काम करेगी बैंक में और अन्य सरकारी ऑथरटीज के आगे इन्हें अपने हाथ कटवाने पड़ेंगे मतलब जिम्मेदारी इन्ही की होगी यदि कोई गलती होती है जिम्मेदारी इन्ही की होगी
  3. हरेक सदस्य 100 रुपया महीना एल.एल.पी. के खाते में बतौर पूँजी जमा करवाएगा और यह पूँजी आपके आर्थिक संगठन का आधार बनेगी हर महीने आपकी पूँजी जुडती चली जाएगी यह 100 रुपया मैंने यह सोच कर प्रोपोजल दिया है कि कमजोर से कमजोर घर भी 100 रुपये महीना तो कंट्रीब्युट कर सकता है
  4. यह पूँजी कहीं आगे नही जाने वाली है यह आप ही के पास रहेगी और हमेशा बैंक में रहेगी इसका प्रयोग बिजनेस एक्टिविटीज को करने में किया जाएगा और जो प्रॉफिट आएगा वो काम करने वाले सदस्यों को बतौर मेहनताना दिया जायेगा
  5. आपकी एल.एल.पी. एक दम से कामयाब होने वाली नही है इसमें कम से कम तीन साल लगेंगे और इसमें बहुत सारे उतार चढ़ाव आयेंगे आपकी कामयाबी बस एक ही फार्मूले से होगी वो यह है कि मैं जो काम करूंगी उससे दूसरी महिला को फायदा होगा बस ऐसे ही एक दूसरे के लिए काम करके पूरे संगठन को फायदा होगा
  6. साथ में मिलकर चलना सबसे मुश्किल काम होता है और जहाँ लोग यानी PEOPLE होते हैं वहां पॉलिटिक्स स्वाभाविक होती है और पॉलिटिक्स एक दीमक होती है इससे संगठन को बचा कर रखना बेहद जरूरी होता है उसके लिए आपको कुछ नियम फॉलो करने पड़ेंगे जैसे कोई किसी की बुराई कभी नही करेगा किसी की कोई बुरी बात किसी को लगती है तो उसके निवारण की कोई स्कीम या योजना आपको सामूहिक तौर पर बनानी पड़ेगी ताकि हरेक व्यक्ति अपने अपने आप को ठीक कर सके
  7. मेरा गाँव मेरी महिलाएं यह शब्दावली अपने दिलों दिमाग से हमेशा के लिए निकाल बाहर कीजिये आपने अपनी एल.एल.पी. के लिए ही काम करना है यह एक वट वृक्ष लगाने के समान है जिसमें बड़े धैर्य और समझदारी के साथ एक दूसरे का हाथ पकड़ कर चलने की आवश्यकता पड़ेगी
  8. शुरुआत में आपकी स्पीड धीमी रहेगी लेकिन जैसे जैसे आपके सिस्टम्स और प्रोसीजर्स विकसित हो जायेंगे आपका काम अपने आप तेजी पकड़ लेगा
  9. आपने हमेशा अपनी टीम के कमजोर परिवारों के सदस्यों को हमेशा ध्यान में रख कर चलना है उन्हें हाथ से काम करने का मौक़ा पहले दो ताकि मजदूरी का पैसा पहले उनके घरों में जाए और आपकी कमजोर कड़ियाँ पहले मजबूत हों
  10. आपके संगठन में यदि 300 महिलाएं ऐसी आ जाती हैं जो 100 रुपये प्रतिमाह जोड़ने को राजी हो जाती हैं तो यह मान लीजिएगा कि हरियाणा में एक बहुत बड़ी क्रान्ति की शुरुआत हो जाएगी

सबको है आस आपसे

आपके आर्थिक संगठन की कल्पना के पहले दिन से ही मैं सोशल मीडिया में आपके बारे में लिख रहा हूँ जिसे प्रदेश के और देश के बहुत बड़े बड़े अधिकारी (जो प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री जी को सीधे रिपोर्ट करते हैं) देख रहे हैं और उन्हें बहुत कौतुहल है कि इस नये मॉडल पर महिलाएं कैसे काम करके दिखायेंगी

आपके कार्यकलापों और संगठन की गतिविधियों के बारे में जब जब मैंने सोशल मीडिया में लिखा है हर बार बहुत जोरदार रिएक्शन आया है जिसका आप सभी को भविष्य में बहुत लाभ होगा

मुझे चाहिए और आपके अधिक सवाल

आपके मन में यदि सवाल नही आते हैं तो मैं यह समझ लेता हूँ कि आपकी रूचि खतम हो रही है और आपके मन में यह क्रांतिकारी विचार दम तोड़ रहा है आपके सवाल ही आपके विचार के ज़िंदा होने का प्रमाण है और मुझे उसी से ऑक्सीजन मिलती है