करवाचौथ व्रत एवं पूजन विधि

karvachauth

करवा चौथ का महत्व करवा चौथ व्रत का हिन्दू संस्कृति में विशेष महत्त्व है। करवा चौथ का त्यौहार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी में मनाया जाता है। करवा चौथ में दो शब्द हैं। पहला शब्द करवा है, जिसका अर्थ होता है कि मिट्टी से बना बर्तन जबकि चौथ से आशय चतुर्थी तिथि से है। मान्यता है कि करवा का प्रयोग जीवन में सुख-समृद्धि को दर्शाता है। इस दिन विवाहित स्त्रियाँ अपने पति के लिये विधि विधान के साथ लम्बी उम्र एवं सुखी जीवन की कामना हेतु निर्जला व्रत रखती है। करवा चौथ पति-पत्नी के बीच एक प्रेम और …

Read more

भव रोगों से मुक्ति का उपाय

आत्मनिरीक्षण करना अर्ताथ अर्जित विवेक के प्रकाश में अपने दोषों को देखना, मोटी बात यह है कि हमें अपनी कमियों का ठीक ठाक अंदाजा होता है। हमें अच्छे से पता होता है कि हम कहाँ गडबड कर बैठते हैं। यदि हम बस आत्मनिरीक्षण करना सीख जाएँ और बस अपने आप से बातें करने लग जाएँ तो हम अपनी कमियों को दूर करने की ओर आपने आप अग्रसर होने लगते हैं। यह काम बिलकुल भी मुश्किल नही है बीएस शुरू करने की देरी भर है। सिर्फ यह करके हम आने वाली अनेक समस्याओं को टाल सकते हैं और बेशुमार मानसिक शान्ति …

Read more

ये कहाँ आ गए हम

शिव शुक्ल किसी दिन सुबह उठकरइसका जायज़ा लीजियेगा , कि कितने घरों मेंअगली पीढ़ी के बच्चे रह रहे हैं ? कितने बाहर निकलकर नोएडा, गुड़गांव,पूना, बेंगलुरु, चंडीगढ़, मुम्बई, कलकत्ता,मद्रास, हैदराबाद, बड़ौदा जैसेबड़े शहरों में जाकर बस गये हैं ? आप एक बार उन गली मोहल्लों सेपैदल निकलिएगा, जहाँ से आपबचपन में स्कूल जाते समय यादोस्तों के संग मस्ती करते हुए निकलते थे. तिरछी नज़रों से झाँकिए हर घर की ओर. आपको एक चुपचाप सी सुनसानियत मिलेगी, न कोई आवाज़, न बच्चों का शोर,बस किसी-किसी घर के बाहर या खिड़की में आते-जाते लोगों को ताकतेबूढ़े जरूर मिल जायेंगे. आखिर इन सूने …

Read more

जहां अकबर पैदा हुआ और राणा रतन सिंह को फांसी हुई

राजीव पुरोहित मुग़ल जलालुद्दीन मोहम्मद अकबर का नाम आते ही दिमाग़ में मुगलिया सल्तनत, दीन-ए-इलाही और बीरबल तानसेन मानसिंघ टोडरमल महाराणा परताप के नाम याद आते है ।अगर ये सवाल किया जाए कि अकबर बादशाह का जन्म कहां हुआ था तो कई लोग गूगल पर इसका जवाब तलाशेंगे। अकबर का जन्म उमरकोट में हुआ था।हुमायूं बिहार के अफ़ग़ान गवर्नर शेर ख़ान से लड़ाई हारने के बाद उमरकोट में रहने लगे थे , उस समय उस बेवतन बादशाह के साथ सिर्फ कुछ सवार और उनकी जीवन साथी हमीदा बानो थीं तब उमरकोट के राजपूत शासक परमार ( राणा ) ने हुमायु …

Read more

कृषि हेतु देसी पेटेंट नुस्खे

कुंवर रविन्द्र राणा गोमूत्र : गोमूत्र में कीटों को भगाने एवं पौध बढवार (टॉनिक) के रूप में कार्य करने की शक्ति है। एक स्प्रे पंप में 250 मिली लीटर गोमूत्र प्रति 16 लीटर पानी में डालें | (कददू वर्गीय फसलों में 150 मिली लीटर गोमूत्र प्रति 16 लीटर पानी में डालें। मटका खाद : एक मटका खाद को 300 लीटर पानी में अच्छे से घोलकर इस विलयन को पौधे के पास जमीन पर देने से अच्छे परिणाम मिलते है (1 से 2 मटका प्रति एकड़) यदि इसी विलयन को सूती कपडे से छानकर फसलों पर छिड़कते है तो अधिक फूल …

Read more

मानस प्रभाती

डॉ अरविंद मिश्रा चित्रकूट पहुँचने के पहले श्रीराम ने मुनिवर वाल्मीकि से किसी निरापद स्थल के बारे में पूछा जहाँ वे सीता और लक्ष्मण के साथ वनवास का कुछ समय बिता सकें। मुनि वाल्मीकि उन्हें कुछ स्थलों की जानकारी दी और आप भी उन स्थलों के बारे में जानिए। सबु करि मागहिं एक फलु राम चरन रति होउ।तिन्ह कें मन मंदिर बसहु सिय रघुनंदन दोउ जो सब कर्मों का एक मात्र यही फल माँगते हैं कि श्री रामचन्द्रजी के चरणों में हमारी प्रीति हो, उन लोगों के मन रूपी मंदिरों में सीताजी और रघुकुल को आनंदित करने वाले आप दोनों …

Read more

नागासाधू और अहमद शाह अब्दाली

जब अहमद शाह अब्दाली दिल्ली और मथुरा में मार काट करता गोकुल तक आ गया और लोगों को बर्बरतापूर्वक काटता जा रहा था. महिलाओं के साथ बलात्कार हो रहे थे, तब गोकुल में अहमदशाह अब्दाली का सामना नागा साधुओं से हो गया। कुछ 5 हजार चिमटाधारी पूज्य नागा साधु तत्काल सेना में तब्दील होकर लाखों की हबसी, जाहिल जेहादी सेना से भिड गए। पहले तो अब्दाली साधुओं को मजाक में ले रहा था किन्तु कुछ देर में ही अपने सैनिकों के चिथड़े उड़ते देख अब्दाली को एहसास हो गया कि ये साधू तो अपनी धरती की अस्मिता के लिए साक्षात …

Read more

सोशल मीडिया आप मैं और हम

सुभाष ऐतयाँ एक विवाह कार्यक्रम शुरू होने से पहले स्टेज पर खड़े एक साहब ने बुलन्द आवाज में कहा “अगर किसी को इस शादी से ऐतराज है तो अभी बता दे” तभी ठीक सबसे पीछे वाली लाइन में बैठी एक खूबसूरत लड़की एक छोटा सा बच्चा अपनी गोद में लिये लोगों को हटाते हुए अचानक स्टेज के सामने आ गई उसे देख वहाँ मौजूद सारे लोग हक्के बक्के रह गए लड़की को स्टेज़ के पास देखते ही दुल्हन ने बिना कुछ सोचे समझे गुस्से में आकर दूल्हे को एक जोरदार झापड़ मार दिया दुल्हन का बाप बन्दूक लेने घर के …

Read more

शिमला समझौता पर भारी पड़ी थी बेनज़ीर की खूबसूरती

राजीव पुरोहित ठीक 50 साल पहले भारत और पाकिस्तान के बीच शिमला समझौता हुआ था. उस वक्त समझौते से ज़्यादा चर्चा बेनज़ीर की हुई थी, जो अपने पिता के साथ भारत आईं थीं। तब भुट्टो ने उन दिनों अमरीका से गर्मियों की छुट्टी में पाकिस्तान आईं अपनी 19 वर्षीय बेटी बेनज़ीर से शिमला चलने को कहा था।विमान में बग़ल में बैठे उनके पिता ने उन्हें समझाया कि इस यात्रा के दौरान ‘तुम्हें बिल्कुल भी मुस्कराना नहीं है’। भारतीय लोगों को ये आभास नहीं होना चाहिए कि उनकी ज़मीन पर पाकिस्तान के 93,000 युद्धबंदियों के रहते, बेनज़ीर को इस यात्रा में …

Read more