Memoirs of Kisan Vinod Kumar

किसान विनोद कुमार जी को आ रही है किसान अकादमी में बिताये समय की याद किसान विनोद कुमार (Vinod Kumar) जी जींद जिले के सफीदों इलाके के निवासी हैं और जैविक कृषि प्रवर्तक के तौर पर इनकी बड़ी पहचान है किसानों को ट्रेनिंग देना और जैविक कृषि कैसे की जाए इसके लिए विनोद मान जी किसानों के साथ मिलकर काम करते हैं बीती 8 , 9 और 10 फरवरी 2022 को राजपुरा पंजाब में स्थित चितकारा यूनिवर्सिटी में किसान अकादमी जिसे किसान संचार संस्था जीरकपुर चलाती है के तत्वाधान में एक एग्री लीडरशिप कोर्स का आयोजन किया गया था जिसमें …

Read more

इंडियन बायोडायवर्सिटी एक्ट 2002 में प्रस्तावित बदलाव प्रस्तुत हुआ बायोलॉजिकल डाइवर्सिटी अमेंडमेंट बिल 2021

पृष्ठभूमि भारत में सन 2002 से बायोडायवर्सिटी एक्ट लागू किया गया  है जिसकी पृष्ठभूमि में है सी.बी.डी. यानि कन्वेंशन ऑन बायोडायवर्सिटी सन 1992 तक जब सी.बी.डी. यानि कन्वेंशन ऑन बायोडायवर्सिटी (Convention on Biodiversity) का मसौदा तैयार हुआ तो उस वक़्त परम्परागत ज्ञान के संरक्षण का विचार एकदम नया था और किसी को कोई आईडिया नहीं था कि इसे कैसे मूर्त रुप दिया जाएगा मई 1998 में जब कॉनफेरेन्स ऑफ़ पार्टीज़ यानि कि सदस्य देश आपस में मिले तो एक वर्किंग ग्रुप का गठन किया गया जिसको स्थानीय समाजों के पास मौजूद परम्परागत ज्ञान के संरक्षण के लीगल तरीके ढूंढने का …

Read more

नाबार्ड क्षेत्रीय कार्यालय पंजाब में आयोजित हुई ऑफ फॉर्म सेक्टर की प्रथम सलाहकार कमेटी की बैठक और ज्योग्राफिकल इंडीकेटर्स पर हुई चर्चा

चंडीगढ़ नाबार्ड क्षेत्रीय कार्यालय पंजाब चंडीगढ़ के द्वारा आज ऑफ़ फार्म सेक्टर विभाग की प्रथम सलाहकार कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया जिसमें नाबार्ड के साथ काम कर रहे विभिन्न विभागों, संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने भाग लिया कार्यक्रम की औपचारिक शुरुआत अर्पिता भट्टाचार्य डी.जी.एम. नाबार्ड ने विभिन्न विभागों से आये प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुए कार्यशाला के उद्देश्यों के बारे में बताते हुए कहा कि नाबार्ड पंजाब ऑफ फार्म सेक्टर गतिविधियों के तहत जिओग्राफिकल इंडिकेटर विषय पर प्रदेश में एक चर्चा की शुरुआत करने का प्रयास कर रहा है ताकि प्रदेश में इस विषय पर जागरूकता फैले और विभिन्न …

Read more