बहुत याद आते हैं सरदार हरविन्द्र सिंघ आत्मा जी

harvinder singh atma

एक साल से भी ज्यादा समय बीत गया पिछले साल सितम्बर महीने की एक उदास सी शाम को जब मैं नारायणगढ़ से लौट रहा था तो अचानक से व्हाट्सएप्प पर एक संदेश प्राप्त हुआ जो सीनियर साथी श्री हरविंद्र सिंह आत्मा जी के बारे में था। संदेश का ले आउट देख कर ही झटका लग गया और बड़े ही बोझिल मन से पढ़ा गया। आँखों के सामने अँधेरा था और दिमाग सुन्न। दो साल पहले ही नाबार्ड क्षेत्रीय कार्यालय चंडीगढ़ के बड़े अधिकारी श्री मलकीत सिंह जी के मार्फत हैफेड ऑयल मिल ऑडिट प्रोजेक्ट के दौरान मेरा परिचय हरविंद्र सिंह …

Read more

यारों के यार राजेंद्र सिंह जी धनौला वाले

पंजाब के देहातों में लोग बड़े जिगरे वाले हैं। सुबह नौ बजे ड्यूटी जाने से पहले घरेलू काम काज की मर्यादा निभा कर शाम को दफ्तर से लौट कर फिर से खेत और पशुओं में खो जाना एक सोहणा शग़ल माना जाता है। हमारे लिए ये एक मुश्किल काम हो सकता है लेकिन इनके लिए एक रूटीन एक्टिविटी है। दिल्ली में बैठ को जो मर्जी बोले जाओ उड़ता पंजाब आदि आदि। पंजाब के अंदर उतर कर देखेंगे तो सजदा पंजाब गजदा पंजाब ते गाता पंजाब नचदा ते वसदा पंजाब है। कल जैसे ही बस से धनौला बस स्टैंड पर उतरा …

Read more

प्रोफेसर राम सिंघ

professor-ram-singh

प्रोफ़ेसर राम सिंघ जी राजपुरा टाउन से सात किलोमीटर दूर अपने फ़ार्म हाउस पर रह कर जीवन का आनंद लेते हैं। मेरे अजीज सीनियर साथी श्रीमान शीशपाल जी हरदु निवासी ग्राम कुमथल नज़दीक ऐलनाबाद वाले मुझे इनसे मिलाने के लिए 22 जुलाई 2022 को इनके पास लेकर गये और वहां इनके फ़ार्म पर लगभग छह घंटे बिताने का अवसर मिला और गपशप के लम्बे दौर के दौरान प्रोफेसर साहब ने अपने जीवन की महत्वपूर्ण घटनाओं का जिक्र किया जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं : भारत और विश्व घूमने की प्रेरणा राम सिंघ जी सन 1968 में कालेज में पढ़ते …

Read more

दमा के रोगी ध्यान दें काइंडली प्लीज

नमस्कार , मेरे एक अजीज सीनियर साथी हैं श्रीमान वैधराज पुष्कर वीर सिंह भाटिया जी, जो हर वर्ष अपने आयुर्वेदिक प्रतिष्ठान धर्मायु आयुर्वेद डेराबस्सी पंजाब भारत से वर्ष में एक बार शरद पूर्णिमा को सेवन की जाने वाली दमे की अचूक दवा जिसके सेवन से व्यक्ति एकबार में ही दमे के रोग से मुक्त हो जाता है का वितरण करेंगे। दवा को हर वर्ष पहले से ही प्राचीन शास्त्रीय विधियों के द्वारा उच्च गुणवत्ता के मानकों की कसौटी पर रसशाला में तैयार किया जाता है जो प्रक्रिया आजकल चल रही है। इस दवा को 19 अक्टूबर 2021 को खीर में …

Read more

धौले एंड काले कानून और किसानपुत्र की व्यथा का व्यावाहरिक पक्ष ग्रामीण भारत की तकलीफ

मेरे एक अजीज साथी हैं सांगवान साहब जिनसे मेरा परिचय फेसबुक के माध्यम से हुआ था और मुझे उनका स्वभाव और विचार ठीक लगे और मेरी उनसे कब दोस्ती हुई और पारिवारिक भाईचारे में बदल गयी पता ही नही चला। मेरे पास वो कई बार चंडीगढ़ आये और मुलाकातें होती रही और मुझे उनकी अपने भविष्य को बनाने सम्बंधित आकांक्षाओं और योजनाओं का पता चलता रहा। बीच बीच में कई बार मेरी उनसे चर्चा बिजनेस सेटअप को लेकर हो जाया करती थी और पिछले एक डेढ़ साल में मैं दो बार उनके घर भी गया और उनके साथियों से भी …

Read more

समाज सेवा और सम्मान

नारायणगढ़ सिविल हॉस्पिटल में सुबह आठ बजे मेरे एक मित्र श्रीमान अजय वालिया जी दिखाने के लिए ओपीडी की लाइन में लगने लगे तो उसने देखा कि लाइन अभी लंबी है इधर पेट मे चूहे कूद रहे थे तो अपने से आगे वाले को बोल कर नज़दीक की दुकान से एक सैंडविच और पीने के लिए लस्सी का पाउच ले आये और लाइन की साइड में बैठ कर खाने लगे तभी उनका ध्यान एक आठ साल के बच्चे ने आकर्षित किया जो बेहद भूखी ललचाई नज़रों से उसे देख रहा था। उनसे रहा नही गया और उन्होंने इशारों ही इशारों …

Read more

डॉ अख्लाक्ष प्रताप सिंह एक बेहतरीन वैज्ञानिक दृष्टिकोण वाले इंसान

दो दशकों में बहुत कुछ बेशक़ बदल जाता है। बस नही बदलता तो वो है सीनियर्स और जूनियर्स का बेशुमार प्यार और रिगार्ड और सीखने जानने बताने कहने सुनने की बेशुमार चाहत। डॉ अख्लाक्ष प्रताप सिंह जी हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में हमारे से इमिजेट सीनियर बैच में थे और मेरी पिछली मुलाक़ात इनसे साल 2000 में बस ऐसे ही चलते फिरते हुई थी। डॉ साहब उस जमाने मे भी बायोकेमिस्ट्री के ठीक ठाक विद्वान हुआ करते थे और इनकी विद्वत्ता इन बीते दो दशकों में कितनी गहराई होगी आप उसका ठीक ठाक अंदाजा लगा ही सकते हैं। फ़ूड केमिस्ट्री, ह्यूमन …

Read more

चीका टाउन वाले मित्र रमेश बिश्नोई जी

पिछले साल आज ही के दिन चीका टाउन में 27 साल के लंबे अरसे के बाद Ramesh Chander Bishnoi भाई साहब जी से मुलाक़ात हुई थी। स्कूल में दसवीं पढ़ने के बाद सब इधर उधर हो गए और फ़िर भगवान फेसबुक जी की असीम कृपा से सब नेटवर्क में जुड़ते चले गए। पिछले साल जब चीका टाउन में एक कठिन परपफेशनल अस्साइनेमेंट लेकर गया था जो बस मित्र नेटवर्क की बदौलत ही सीधे रास्ते पर चढ़ पाई।रमेश भाई साहब एक मजबूत चट्टान के जैसे व्यक्तित्व वाले हैं और निजी और प्रोफेशनल फ्रंट पर बड़ी शिद्दत से अपनी जिम्मेदारियों का वहन …

Read more

खुदगब्बर तनुज खुराना एक परिचय

साल भर पहले की बात है मैं शाहाबाद टाउन में मित्र रजत सतीजा के शो रूम पर एक युवा कारोबारी से मिला था जिसका नाम था तनुज खुराना था और तारीख थी 18 अगस्त 2020 अभी दो दिन पहले मैं फिर शाहबाद गया था और मैंने अपने स्थानीय संपर्क रजत भाई से अपडेट लिया था तो उन्होंने बताया था कि पिछले एक साल में खुदगब्बर ने बहुत तरक्की कर ली है। शाहबाद जैसे छोटे टाउन से कारोबारी संभावनाओं की आप भला क्या उम्मीद कर सकते हैं? आज मुझे अचनाक से इस छोटे टाउन का देश के हरेक छोटे कस्बे गांव …

Read more

चमत्कारी प्रतिभा के धनी लाला जगदीश जैन जी नई अनाज मंडी रोहतक वाले

ये लाला जगदीश जैन जी हैं। रोहतक में नई अनाज मंडी में इनका बारदाने का खानदानी काम है। साल 1998 में जब हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में एम. एस. सी. का छात्र था तो उन दिनों आजादी बचाओ आंदोलन के कार्यक्रम के में रोहतक में लाला जगदीश जैन जी से परिचय हो गया था । ये और इनका छोटा बेटा पांडु रात रात भर सडकों मोहल्लों में पोस्टर लगाते थे। साल 2000 मैं पढाई पूरी करके इंडियन आर्गेनिक फ़ूड नई दिल्ली में नौकरी करने लगा था। लेकिन रविवार को कभी कभी लाला जी के ठिकाने पर चला जाता था। इनके ठिकाने …

Read more