निब वाले पेन हमारा बचपन और हम

जब हम स्कूल में पढ़ते थे उस स्कूली दौर में निब पैन का चलन जोरों पर था। तब कैमलिन और चेलपार्क की स्याही प्रायः हर घर में मिल ही जाती थी, कोई कोई टिकिया से स्याही बनाकर भी उपयोग करते थे और जिन्होंने भी पैन में स्याही डाली होगी वो ड्रॉपर के महत्व से भली …

Read more

छोटे काम का बड़ा नतीजा पेंटर और नाव वाला किस्सा

एक आदमी ने एक पेंटर को बुलाया और अपनी नाव दिखाकर कहा कि इसको पेंट कर दो । पेंटर ने उस नाव को लाल रंग से पेंट कर दिया जैसा कि नाव का मालिक चाहता था। फिर पेंटर ने अपने पैसे लिए और चला गया । अगले दिन, पेंटर के घर पर वह नाव का …

Read more

करोना जैसों की काट भारतीय संस्कृति

राम युग में दूध मिलेऔर कृष्ण युग में घीकोरोना युग में काढा मिलेडिस्टेंस बना कर पी जब दुनियाँ लेके बैठी हैबड़े-बड़े परमाणुपर ठोक गया उसे एकछोटा सा विषाणु कल रात सपने मेंआया कोरोनाउसे देख जो मैं डरा 😢और शुरू किया रोनातो, मुस्कुरा 😊 केवह बोला मुझसे डरो मतकितनी अच्छी हैतुम्हारी संस्कृति न चूमते, न गले …

Read more

जहर खुराक और दवाई का कन्फ्यूजन

हरियाणा के जिला कैथल के कैलरम गांव में 25 अगस्त 2019 को दादा खेड़े पर एक बैठक चल रही थी और बैठक में एक सीनियर किसान महोदय जी के रंगे हाथ अलग से नज़र आ गए जो खेत में जहर छिड़क कर आने के बाद मीटिंग में बैठे थे। मैंने विनम्रता से उन्हें आगे बुलाया …

Read more

भारत में जातिवाद अंग्रेजों का बिछाया हुआ एक षड्यंत्र और उसकी काट

भारत के इतिहास मे कहीं भी देखा जाए जीवन को सही ढंग से उत्पादक वर्ग ने ही जिया है जिसका सबूत है वर्तमान में उनकी जनसंख्या। भारत में आज भी ब्राह्मण थोड़े से ही हैं और समाज ने इन्हें कमाने का अधिकार इनसे छीन लिया क्योंकि ऋषि जानते थे कि ज्ञान और धन दोनों मिलकर …

Read more

error: Content is protected !!