Prafull Chandra Ray प्रफुल्ल चंद्र रे

भारतीय रसायनशास्‍त्र के जनक डॉ. प्रफुल्ल चंद्र रे जन्म 2 अगस्त, 1861 आचार्य प्रफुल्ल चंद्र रे (Prafull Chandra Ray) ने न केवलभारत में पहली दवा कंपनी की स्थापना कीबल्कि हिंदू रसायन विज्ञान के इतिहास कापहला व्यापक लेख भी लिखा ब्रिटिश खुफिया रिपोर्टों ने उन्हें नियमित रूप से“एक वैज्ञानिक की आड़ में क्रांतिकारी”के रूप में वर्णित …

Read more

चौधरी खरताराम जाखड़ Kharta Ram Jakhar

चौधरी खरतारामजी उन्हीं महापुरुषों में से एक थे। बचपन में चौधरी साहब को क्षेत्र मे व्याप्त प्राकृतिक, सामाजिक, राजनैतिक, आर्थिक और साम्प्रदायिक समस्याओं से सामना करना पड़ा।

वृंदावन के लाल बाबा

91 वर्ष के लाल बाबा 91 वर्ष के लाल बाबा 35 मिनट में पूरी करते हैं परिक्रमा और करीब 20 साल से भोजन का त्याग कर रखा है। सनातन धर्म में संतों का त्याग और समर्पण अविस्मरणीय है। बहुत से संतो ने अपना पूरा जीवन ही लोक कल्याण के लिए अर्पित कर दिया। वृंदावन में …

Read more

किसान केसरी बलदेवराम मिर्धा

02 अगस्त 1953 को कृषक क्रांति का जाज्वल्यमान नक्षत्र धूमकेतु की तरह अपनी छटा बिखेर कर विलखते हजारो संगी साथियों और अनुयायियों को छोड़ इस नश्वर संसार को अलविदा कह गया। महान् स्वतंत्रता सेनानी किसान केसरी बलदेवराम जी महान् स्वतंत्रता सेनानी किसान केसरी बलदेवराम जी मिर्धा ने मारवाड़ रियासत में पुलिस विभाग के डीआइजी पद …

Read more

मास्टर पंजाब सिंह पूनिया जी सातरोड हिसार हरियाणा वाले

दफ्तर के काम से हिसार ज़िल के सातरोड पिंड में जाना हुआ और वहां मुझे बातों ही बातों में 78 वर्षीय मास्टर पंजाब् सिंह पूनिया के मालूम चला और मैंने छोटे भाई Vikas Hariyanvi Satrod जी से निवेदन किया कि मुझे मास्टर जी से मिलवाओ। गांव सातरोड की पुरानी तंग गलियों से गुजरते गुजरते हम …

Read more

पुणे के राहुल पाठक बना रहे हैं बिना बिजली के चलने वाला पोर्टेबल वाटर फ़िल्टर

ये श्रीमान राहिल पाठक जी हैं जो पुणे, महाराष्ट्र के रहने वाले हैं। राहुल बताते हैं कि जब पुणे में मैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था, तब मुझे समझ आया कि तार्किक ढंग से प्रयोग के जरिये ही मैं अनेकों समस्याओं का हल निकाल सकता हूँ जिससे मैं अपने भविष्य का निर्माण करने के …

Read more

95 वर्षीय हरभजन कौर दी एंटरप्रेन्योरशिप

यह तस्वीर 95 वर्षिय हरभजन कौर की है। अमृतसर के नज़दीक तरनतारन में जन्‍मी हरभजन कौर शादी के बाद अमृतसर, लुधियाना में रही और करीब दस साल पहले पति की मौत के बाद वे कुछ समय से अपनी बेटी रवीना के साथ चंडीगढ़ में रहने लगी। रवीना जानती थी के माँ का जीवन अपने आखरी …

Read more

डॉ सुरेंद्र दलाल एक सच्चे कर्मठ वैज्ञानिक से मुलाकात और उनकी यादें

डॉ सुरेंद्र दलाल जी एक सच्चे और धुरंधर वैज्ञानिक जी से मुलकात की यादें तो बहुत हैं लेकिन मुझे अपने जीवन में स्वर्गीय डॉ Surender Dalal जी से मिलने का मौका सिर्फ पांच या छह बार ही मिला है लेकिन फिर भी यह मुलाकातें सुबह से शाम तक बैठने वाली थी, उनको काम करते देखना …

Read more

डोभ वाली क्रिएटिव दादी गंगा देवी

मेरे जीवन मे जब जब ज्ञान से अपनी जीने की राह निकालने का सवाल आता है तो सबसे ऊपर दादी गंगा देवी जी का नाम आता है। दादी गंगा देवी ने बचपन मे खेतों में काम करते करते स्कूल के आते जाते बच्चों के साथ खेल खेल कर गिनती पहाड़े सीख लिए,बिल्कुल अनपढ़ होने के …

Read more

error: Content is protected !!