बहुत याद आएंगे सरदार हरविन्द्र सिंघ आत्मा जी

कल देर शाम जब मैं नारायणगढ़ से लौट रहा था तो अचानक से एक संदेश प्राप्त हुआ जो सीनियर साथी श्री हरविंद्र सिंह आत्मा जी के बारे में था।संदेश का ले आउट देख कर ही झटका लग गया और बड़े ही बोझिल मन से पढ़ा गया।दो साल पहले ही नाबार्ड क्षेत्रीय कार्यालय चंडीगढ़ के बड़े …

Read more

समाज सेवा और सम्मान

नारायणगढ़ सिविल हॉस्पिटल में सुबह आठ बजे मेरे एक मित्र श्रीमान अजय वालिया जी दिखाने के लिए ओपीडी की लाइन में लगने लगे तो उसने देखा कि लाइन अभी लंबी है इधर पेट मे चूहे कूद रहे थे तो अपने से आगे वाले को बोल कर नज़दीक की दुकान से एक सैंडविच और पीने के …

Read more

डॉ अख्लाक्ष प्रताप सिंह एक बेहतरीन वैज्ञानिक दृष्टिकोण वाले इंसान

दो दशकों में बहुत कुछ बेशक़ बदल जाता है। बस नही बदलता तो वो है सीनियर्स और जूनियर्स का बेशुमार प्यार और रिगार्ड और सीखने जानने बताने कहने सुनने की बेशुमार चाहत। डॉ अख्लाक्ष प्रताप सिंह जी हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में हमारे से इमिजेट सीनियर बैच में थे और मेरी पिछली मुलाक़ात इनसे साल 2000 …

Read more

चीका टाउन वाले मित्र रमेश बिश्नोई जी

पिछले साल आज ही के दिन चीका टाउन में 27 साल के लंबे अरसे के बाद Ramesh Chander Bishnoi भाई साहब जी से मुलाक़ात हुई थी। स्कूल में दसवीं पढ़ने के बाद सब इधर उधर हो गए और फ़िर भगवान फेसबुक जी की असीम कृपा से सब नेटवर्क में जुड़ते चले गए। पिछले साल जब …

Read more

खुदगब्बर तनुज खुराना एक परिचय

साल भर पहले की बात है मैं शाहाबाद टाउन में मित्र रजत सतीजा के शो रूम पर एक युवा कारोबारी से मिला था जिसका नाम था तनुज खुराना था और तारीख थी 18 अगस्त 2020 अभी दो दिन पहले मैं फिर शाहबाद गया था और मैंने अपने स्थानीय संपर्क रजत भाई से अपडेट लिया था …

Read more

चमत्कारी प्रतिभा के धनी लाला जगदीश जैन जी नई अनाज मंडी रोहतक वाले

ये लाला जगदीश जैन जी हैं। रोहतक में नई अनाज मंडी में इनका बारदाने का खानदानी काम है। साल 1998 में जब हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में एम. एस. सी. का छात्र था तो उन दिनों आजादी बचाओ आंदोलन के कार्यक्रम के में रोहतक में लाला जगदीश जैन जी से परिचय हो गया था । ये …

Read more

पंजाब दी शान सरदार दर्शन सिंह जी : गोरा बाबा

माईकल 15 साल का एक लड़का जो साउथ फ्रांस में पैदा हुआ पैदा हुआ और अपने स्वभाव से वेजिटेरियन था उसका यह गुण उसके लिए कितनी बड़ी मुसीबत बन जाएगा उसने कभी सोचा भी नहीं था एक दिन जब वह खेत में काम कर रहा था और लंच के लिए खेत में ही बने टेंट …

Read more